साइबर सिक्योरिटी क्या है ? साइबर सिक्योरिटी कैसे काम करती है। साइबर सिक्योरिटी किसे कहते हैं। what is cyber security ?

साइबर सिक्योरिटी क्या है ? साइबर सिक्योरिटी के फील्ड में कॅरियर? what is cyber security

साइबर सिक्योरिटी क्या है ? साइबर सिक्योरिटी के फील्ड में कॅरियर what is cyber security
जैसे - जैसे हमारी ज़िन्दगी में इंटरनेट की दखल बढ़  रहा वैसे-वैसे साइबर क्राइम की रफ़्तार भी बढ़  रही है। साइबर क्राइम में ब्लैकमेलिंग,स्टॉकिंग ,कॉपीराइट ,क्रेडिट कार्ड चोरी ,फ्रॉड ,पोर्नोग्राफी आदि आते है। साइबर सिक्योरिटी प्रोफेसनल के लिए गॉवर्मेँट सेक्टर ,आईटी ,बैंक ,फाइनेंस ,आयल एंड गैस ,टेलिकॉम ,पावर,एयरलाइन ऑनलाइन मीडिया आदि में अच्छे मौके है 

 साइबर सिक्योरिटी क्या है ?

इंटरनेट के माध्यम से किये जाने वाले सभी अपराधों को साइबर क्राइम मन गया है। हमारे देश में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट लागु हैं। इस एक्ट में हैकिंग क्रेडिट कार्ड ,फ्रॉड, साइबर स्टॉकिंग, ब्लैक मेलिंग ,कंप्यूटर सोर्स कोड के प्रशारण ,अश्लीलता ,बौद्धिक सम्पदा ,कॉपीराइट  तथा ट्रेडमार्क से जुड़े अपराध के खिलाफ सख्त प्रावधान है ,ऐसे में साइबर सिक्योरिटी क्राइम पर अंकूश लगाने वाले साइबर सिक्योरिटी प्रोफेसनल की जरूरत तेजी से पड़ती है।  

इंटरनेट एक  ऐसा जाल है जहा है हम रोज फस्स्ते जा रहे है  आसान शब्दों में कहा जाये तो जितनी ज्यादा इंटरनेट यूजर उतने ज्यादा खतरा इसी खतरा से बचने वाले कोर्स को साइबर सिक्योरिटी कहते है जैसे कही साइबर फ्रॉड होता उसे रोकने या उसे बचने के तरीके को ही साइबर सिक्योरिटी कहते है ,जैसे -बैंकिंग साइबर क्राइम ,फेसबुक साइबर क्राइम ,ऑनलाइन ब्लैकमेलिंग ,क्रेडिट कार्ड चोरी ,पोर्नोग्राफी, स्टॉकिंग आदि आते है 

क्यू  जरुरी है  सिक्योरिटी ?

इंटरनेट जब से  हम उपयोग करते जा रहे है तब से हमारे ऊपर असुरक्षित होने का खतरा मंडरा रहा है जब भी हम किसी हैकर के बारे में पड़ते या सुनते है की किसी हैकर ने गोवेर्मेंट की वेबसाइट को हैक कर जनता की सभी जानकारी का गलत इस्तिमाल कर रहे है तब से लोगो को  लगने लगा है की हमें अब सिक्योर रहने के लिए साइबर सिक्योरिटी की मदद लेनी चाहिए। 

आवश्यक स्किल्स ?

साइबर सिक्योरिटी फील्ड के लिए कंप्यूटर ,टेक्नोलॉजी की समझ और अंग्रेजी जरुरी है। इसमे आईटी और कंप्यूटर साइंस के इंजिनिअरींग gredguate की करियर सम्बन्धी अधिक सम्भावनाये है। लैटरर हायरिंग के लिए सी++,विंडोज़ कॉर्नल ,मालवेयर अनलाइज़ ,ऑटोमेशन और डेटा  साइंस में काम किया हों। मशीन लर्निंग ,बिग डेटा आईओटी ,क्लाउड कंप्यूटिंग ,ब्लॉकचैन जैसे स्किल्स की  मांग है 

अच्छा कॅरियर बनाये

इस क्षेत्र में अच्छा करियर बनाने के लिए 12वी के बाद कंप्यूटर साइंस या आइटी में बी.टेक या बोई कर सकते है। इनमे प्रवेश के लिए 12वी पीसीएम ग्रुप पास होना जरुरी है। इसकइ बाद साइंस ,कंप्यूटर इंजीनियरिंग, नेटवर्क इंजीनिरिंग ,आइटी साइबर सिक्योरिटी या कंप्यूटर फोरेंसिक में पोस्ट ग्रेजुएशन का कोर्स भी लाभप्रद होता है कंप्यूटर नॉलेज और अच्छा इंग्लिसज आती यही तो सफलता जरूर मिलेगी। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ